नई पोस्ट करें

मध्य प्रदेश में हलचल तेज: BJP ने कहा- अल्पमत में है कमलनाथ सरकार, उसे जाना ही होगा

2022-10-01 08:34:27 889

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाFIFA World Cup 2018: OMG! रोनाल्डो जूनियर ने अपने पिता को छोड़ा पीछे, देखें वीडिया******क्रिस्चिआनो रोनाल्डो इस समय दुनियां के सर्वश्रेष्ठ फ़ुटबॉल खिलाड़ी हैं और यही वजह है कि उन्हें पांच बार 'बैलन डी ओर' का ख़िताब मिला है. इस बीच उनके 7 साल के बेटे ने भी साबित कर दिया कि उनके पास भी उनके पिता की तरह फ़ुटबॉल खेलने का हुनर है.गुरुवार को पुर्तगाल और अल्जीरिया के बीच दोस्ताना मैच के बाद जूनियर रोनाल्डो ने दिखाया कि उन्हें विरासत में पिता से हुनर मिला है. जूनियर रोनाल्डो ने पहले शानदार शॉट लगाकर गोल के कॉर्नर से गोल किया और फिर एक्रोबैटिक वॉली से गोल किया.विश्व कप के पहले पुर्तगाल ने तीन मैच खेले हैं जिसमें से ट्यूनेशिया और बेल्जियम के ख़िलाफ़ मैच ड्रॉ रहे. इन मैचों में रोनाल्डो नहीं खेले थे लेकिन अल्जीरिया के ख़िलाफ़ मैच में वह मैदान पर उतरे. इस मैच में पुर्गाल ने अल्जीरिया को 3-0 से हराया.

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाBSF Orders Airlift For Jawan: अपनी शादी में टाइम पर पहुंच सके LoC पर तैनात जवान, BSF ने करवाया 'स्पेशल एयरलिफ्ट'****** सीमा सुरक्षा बल () ने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा () की एक दूरस्थ चौकी पर तैनात एक जवान को एयरलिफ्ट करने के लिए बृहस्पतिवार को एक हेलीकॉप्टर की विशेष उड़ान संचालित की, ताकि वह अपनी शादी के लिए 2,500 किलोमीटर दूर ओडिशा में स्थित अपने घर पर समय से पहुंच सके। सीमा सुरक्षा बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नियंत्रण रेखा के पास माछिल सेक्टर में एक ऊंचाई वाली चौकी पर तैनात 30 वर्षीय कांस्टेबल नारायण बेहरा की शादी दो मई को होनी तय है।उन्होंने कहा कि इस समय एलओसी चौकी बर्फ से ढकी हुई है और कश्मीर घाटी के साथ इसका सड़क संपर्क फिलहाल बंद है। इन स्थानों पर तैनात सैनिकों के लिए सैन्य हवाई उड़ान ही परिवहन का एकमात्र उपलब्ध साधन है। अधिकारी ने बताया कि जवान के माता-पिता ने हाल ही में यूनिट कमांडरों से संपर्क किया। वे चिंतित थे, क्योंकि उक्त तिथि के लिए सभी तैयारियां कर ली गई थीं। उन्हें लग रहा था कि उनका बेटा अपनी शादी के लिए समय से नहीं पहुंच पाएगा।मामला बीएसएफ के महानिरीक्षक (कश्मीर फ्रंटियर) राजा बाबू सिंह के संज्ञान में लाया गया। उन्होंने आदेश दिया कि श्रीनगर में तैनात बल का एक हेलीकॉप्टर जिसका नाम चीता है, तुरंत बेहरा को एयरलिफ्ट करे। हेलीकॉप्टर बृहस्पतिवार तड़के बेहरा को श्रीनगर ले आया। वह अब ओडिशा के ढेंकनाल जिले के आदिपुर गांव में अपने घर जा रहे हैं। सिंह ने बताया कि उन्होंने हवाई सेवा को मंजूरी इसलिए दी क्योंकि सैनिकों का कल्याण उनकी ''पहली और सबसे महत्वपूर्ण प्राथमिकता'' है।(इनपुट- IANS)मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाभौम प्रदोष व्रत 2022 : भौम प्रदोष के दिन करें ये विशेष उपाय, कर्ज के साथ ही मंगल से जुड़ी अन्य परेशानियां होंगी दूर******Highlightsहर महीने के कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को भगवान शंकर को समर्पित करने का विधान है। त्रयोदशी तिथि में रात्रि के प्रथम प्रहर यानि दिन छिपने के तुरंत बाद के समय को प्रदोष काल कहते हैं और प्रदोष व्रत की पूजा प्रदोष काल में ही किया जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, मार्च महीने में 2 प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं, जिसमें पहला प्रदोष व्रत 15 मार्च और दूसरा 29 मार्च को पड़ रहा है। ये दोनों व्रत मंगलवार को पड़ रहे हैं इसलिए इसे भौम प्रदोष व्रत कहते हैं।इस दिन देवों के देव महादेव की विधिपूर्वक पूजा-अर्चना की जाती है। साथ ही भगवान भोलेनाथ को उनकी प्रिय वस्तुएं जैसे, भांग, धतुरा, बेलपत्र, गंगाजल, सफेद चंदन, सफेद फूल अर्पित किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि प्रदोष व्रत के दिन शिव मंत्रों का जाप करने से भगवान अपनी भक्तों की सारी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।भौम प्रदोष का व्रत ऋण से मुक्ति के लिए बहुत ही कारगर साबित होता है।अगर आप किसी प्रकार के कर्ज से मुक्ति पाना चाहते हैं तो इस दिन पूजा जरूर करें। इसके साथ ही इस दिन कुछ विशेष उपाय करके आप कर्ज के साथ ही मंगल से जुड़ी अन्य परेशानियों से भी छुटकारा पा सकते हैं। आइए जानते हैं प्रदोष व्रत के लाभ के बारे में।

मध्य प्रदेश में हलचल तेज: BJP ने कहा- अल्पमत में है कमलनाथ सरकार, उसे जाना ही होगा

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाICC Rankings : नई रैंकिंग में भारी फेरबदल, जानिए भारतीय खिलाड़ियों का हाल******Highlightsभारत के लगभग सभी क्रिकेटर इस वक्त आईपीएल में खेलते हुए नजर आ रहे हैं। भारत को करीब दो महीने तक कोई भी अंतरराष्ट्रीय सीरीज नहीं खेलनी है। वहीं टेस्ट से भी अभी टीम इंडिया की दूरी रहेगी, लेकिन इस बीच आईसीसी की ओर से नई टेस्ट रैंकिंग जारी कर दी गई है। इस रैंकिंग में भारी फेरबदल देखने के लिए मिले हैं। भारतीय खिलाड़ी भी इधर उधर खिसके हैं। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और पूर्व कप्तान विराट कोहली को नई रैंकिंग में नुकसान हुआ है और वे नीचे आ गए हैं।भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और विराट कोहली आईसीसी की ओर से जारी की गई नई टेस्ट रैंकिंग में एक-एक पायदान खिसककर आठवें और 10वें स्थान पर पहुंच गए हैं। रोहित शर्मा बल्लेबाजी लिस्ट में अब भी टॉप रैंकिंग पर काबिज भारतीय हैं, उनके 754 अंक हैं और एक स्थान फिसलकर आठवें स्थान पर हैं। वहीं विराट कोहली के 742 रेटिंग अंक हैं और वह 10वें स्थान पर खिसक गए हैं। रविंद्र जडेजा ने आलराउंडर सूची में अपना टॉप का स्थान बरकरार रखा है जबकि रविचंद्रन अश्विन वेस्टइंडीज के जेसन होल्डर को हटाकर दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं।अश्विन और तेज गेंदबाजी के अगुआ जसप्रीत बुमराह गेंदबाजों की सूची में क्रमश: अपने दूसरे और चौथे स्थान पर बने हुए है। वनडे रैंकिंग में विराट कोहली ने अपना दूसरा स्थान कायम रखा है और रोहित शर्मा एक पायदान के फायदे से चौथे स्थान पर पहुंच गए हैं। गेंदबाजों में टॉप 10 में केवल एक भारतीय जसप्रीत बुमराह छठे स्थान पर काबिज हैं।(Bhasha inputs)मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगादिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर ED की बड़ी कार्रवाई, संपत्तियां हुईं जब्त******प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को कहा कि उसने धन शोधन की जांच के सिलसिले में दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन के परिवार और उनकी कंपनियों की 4.81 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्तियां कुर्क कीं। जैन (57) अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार में स्वास्थ्य, बिजली, गृह, लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी), उद्योग, शहरी विकास, बाढ़, सिंचाई और जल मंत्री हैं।ईडी ने 2018 में शकूर बस्ती से आम आदमी पार्टी (आप) विधायक से मामले के सिलसिले में पूछताछ की थी। ईडी ने एक बयान में कहा कि उसने संपत्तियों की कुर्की के लिए धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत एक अस्थायी आदेश जारी किया है।लगभग 4.81 करोड़ रुपये मूल्य की अचल संपत्तियां ‘अकिंचन डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड, इंडो मेटल इंपेक्स प्राइवेट लिमिटेड, पर्यास इंफोसोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड, मंगलायतन प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, जेजे आइडियल एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड, वैभव जैन की पत्नी स्वाति जैन, अजीत प्रसाद जैन की पत्नी सुशीला जैन और सुनील जैन की पत्नी इंदु जैन से संबंधित हैं।’ईडी ने कहा, ‘इन राशि का उपयोग जमीन की खरीद या दिल्ली और उसके आसपास कृषि भूमि की खरीद के वास्ते लिये गए ऋण की अदायगी के लिए किया गया था।’’ अधिकारियों के अनुसार कुर्की आदेश में नामित व्यक्ति जैन के सहयोगी और परिवार के सदस्य हैं। ‘आप’ के नेता के खिलाफ धनशोधन का ईडी का मामला अगस्त 2017 में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो बीआई द्वारा उनके और अन्य के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति रखने के आरोप में दर्ज प्राथमिकी से जुड़ा है।सीबीआई ने दावा किया है कि जैन ने 2018 से पहले के पांच वर्षों में दिल्ली में उनके द्वारा नियंत्रित कंपनियों के नाम पर 200 बीघा कृषि भूमि खरीदी और कई करोड़ रुपये के ‘‘काले धन का शोधन’’ किया। यह आरोप लगाया गया था कि जैन ने पूर्व में इन कंपनियों को या तो निदेशकों में से एक के रूप में या इन कंपनियों के एक तिहाई शेयरों को अपने नाम पर या अपने परिवार के सदस्यों या अन्य लोगों के नाम पर लिया था।सीबीआई ने कहा था कि 2010-16 के बीच दिल्ली के औचंडी, बवाना, कराला और मोहम्मद माजवी गांवों में 200 बीघा जमीन खरीदने के लिए धन का कथित तौर पर इस्तेमाल किया गया था। आयकर विभाग ने भी इन लेन-देन की जांच की थी और जैन से कथित रूप से जुड़ी ‘बेनामी संपत्ति’ को कुर्क करने का आदेश जारी किया था।मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगामशहूर एक्टर और स्क्रिप्ट राइटर शिव सुब्रमण्यम का निधन, दो महीने पहले हुई थी बेटे की मौत******एक्टर और स्क्रिप्ट राइटर शिव सुब्रमण्यम का रविवार रात निधन हो गया। अपने शानदार करियर के दौरान, उन्हें परिंदा के लिए सर्वश्रेष्ठ स्क्रीन राइटिंग और हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी के लिए बेस्ट स्टोरी के फिल्मफेयर अवॉर्डसे सम्मानित किया गया था। साल 1989 से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में चर्चा में आए शिव सुब्रमण्यम ने अपने पूरे करियर में फिल्मों और टीवी शो में काम किया।विधु विनोद चोपड़ा की तरफ से डायरेक्ट की गई परिंदामें जैकी श्रॉफ, अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित, नाना पाटेकर और अनुपम खेर शामिल थे, जिसकी स्क्रिप्ट शिव सुब्रमण्यम ने लिखी थी।शिव सुब्रमण्यम के निधन किस वजह से हुआ इस बारे में कुछ पुष्टि नहीं हो पाई है। फिल्ममेकर बीना सरवर और निर्देशक हंसल मेहता सहित अन्य लोगों ने उनके निधन के बारे में ट्विटर पर प्रतिक्रिया दी है।उनके निधन की खबर से दुखी फिल्ममेकर बीना सरवर ने शोक जताया है। उन्होंने ट्विटर पर एक्टर को श्रद्धांजलि दी और बताया कि दो महीने पहले ही उनके बेटे जहान की ब्रेन ट्यूमर के कारण मौत हो गई थी।शिव सुब्रमण्यम ने अपने करियर में कई टीवी सीरियल्स में भी काम किया था। उन्होंने कलर्स पर टीवी शो मुक्ति बंधन में बिजनेस मिस्टर आईएम विरानी की भूमिका भी निभाई। उनकी कुछ सबसे हालिया भूमिकाएं मीनाक्षी सुंदरेश्वर और नेल पॉलिश में हैं। अभिनेता ने रॉकी हैंडसम, उंगली, कामिनी, 1942: ए लव स्टोरी और 2 स्टेट्स जैसी फिल्मों में भी अभिनय किया।

मध्य प्रदेश में हलचल तेज: BJP ने कहा- अल्पमत में है कमलनाथ सरकार, उसे जाना ही होगा

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाWomen T20 Challenge: स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर की टीमों के बीच होगी पहली जंग, जानिए मैच से जुड़ी सभी बातें******Highlightsपुरुषों का आईपीएल (IPL) अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है। इसी बीच सोमवार 23 मई 2022 से महिला टी20 चैलेंज (Women T20 Challenge) की शुरुआत होने जा रही है। पहले मुकाबले में आमने-सामने होंगी स्मृति मंधाना की अगुआई वाली ट्रेलब्लेजर्स (Trailblazers) और हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली सुपरनोवाज (Supernovas)। इस टूर्नामेंट के सभी मुकाबले पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन (MCA) स्टेडियम में खेले जाएंगे।इस टूर्नामेंट में तीन टीमें, सुपरनोवाज (Supernovas), ट्रेलब्लेजर्स (Trailblazers) और वेलोसिटी (Velocity) शामिल होंगी। यही तीनों टीमें अभी तक पिछले तीन वुमेंस टी20 चैलेंज के सीजनों में हिस्सा लेती आई हैं। हालांकि वेलोसिटी 2019 से जुड़ी थी। इस बार के टूर्नामेंट में तीन लीग और एक फाइनल मैच समेत कुल चार मैच पुणे के एमसीए स्टेडियम में आयोजित होंगे।23 मई को पहला मैच ट्रेलब्लेजर्स और सुपरनोवाज से बीच खेला जाएगा, जबकि 24 मई को दूसरा मैच सुपरनोवाज और दीप्ति शर्मा की अगुआई वाली वेलोसिटी के बीच होगा। तीसरा मैच 26 को वेलोसिटी और ट्रेलब्लेजर्स के बीच खेला जाएगा। फाइनल मैच 28 मई को खेला जाएगा। 24 तारीख को होने वाला मैच दोपहर साढ़े 3 बजे से शुरू होगा, जबकि बाकी सभी मैच शाम साढ़े 7 बजे से खेले जाएंगे।महिला टी20 चैलेंज के मुकाबले आप स्टार स्पोर्ट्स 1 पर अंग्रेजी, स्टार स्पोर्ट्स 3 पर हिंदी समेत विभिन्न भाषाों में स्टार स्पोर्ट्स के विभिन्न चैनलों पर देख सकते हैं। इसके अलावा लाइव स्ट्रीमिंग आपको डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर भी देखने को मिलेगी। साथ ही मैच से जुड़े अन्य सभी अपडेट्स के लिए आप पर भी जुड़े रह सकते हैं।महिलाओं का आईपीएल कह जाने वाले इस टूर्नामेंट का खिताब तीन में से दो बार (2018, 2019) हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली सुपरनोवाज ने अपने नाम किया है। जबकि 2020 के पिछले सीजन में स्मृति मंधाना की अगुआई वाली ट्रेलब्लेजर्स ने सुपरनोवाज को हराकर बाजी मारी थी। देखना होगा कि इस बार तीनों टीमों का स्क्वॉड किस प्रकार होता है। पिछले सत्र के हिसाब से, सुपरनोवाज की कमान हरमनप्रीत कौर, ट्रेलब्लेजर्स की स्मृति मंधाना और वेलोसिटी की मिताली राज के हाथों में थी।मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाUp Assembly election: बहराइच विधानसभा चुनाव 2022: क्या फिर 2017 की जीत को दोहरा पाएगी बीजेपी?******बहराइच विधानसभा सीट उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण विधानसभा सीट है, जहां 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी। इस बार मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी अनुपमा जायसवाल और समाजवादी पार्टी के नेता यासिर शाह के बीच होगा। इससे पहले 1993 से लेकर 2017 तक इस विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी का वर्चस्व रहा है। लेकिन 2017 में अनुपमा जायसवाल ने सपा प्रत्याशी को हराकर उलटफेर किया था। इस जीत के बाद इस बर फिर अनुपमा जायसवाल पर बीजेपी ने विश्वास दिखाया है।बहराइच विधानसभा सीट उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में आती है। 2017 में बहराइच में कुल 41.00 प्रतिशत वोट पड़े। 2017 में भारतीय जनता पार्टी से अनुपमा जयसवाल ने समाजवादी पार्टी के रुबाब सैयदा को 6702 वोटों के मार्जिन से हराया था। सपा की रुबाब सैयदा दूसरे स्थान पर रही थीं। उन्हें 80,777 वोट प्राप्त हुए थे। यह कुल मतों का 37.86% था।बहराइच विधानसभा सीट बहराइच के अंतर्गत आती है। इस संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं अक्षयवर लाल गौड़, जो भारतीय जनता पार्टी से हैं। उन्होंने समाजवादी पार्टीके Shabbir Balmiki को 128752 से हराया था। यहां मतदान रविवार, 27 फरवरी 2022 को होगा। मतगणना गुरुवार, 10 मार्च 2022 को होगी।

मध्य प्रदेश में हलचल तेज: BJP ने कहा- अल्पमत में है कमलनाथ सरकार, उसे जाना ही होगा

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाडाडा जलालपुर बवाल: पुलिस ने रोका तो स्वामी टोल प्लाजा पर ही करने लगे हनुमान चालीसा का पाठ****** स्वामी दिनेश आनंद भारती में भगवानपुर के डाडा जलालपुर गांव पहुंचे लेकिन प्रशासन ने आगे बढ़ने की इजाजत नहीं दी। उन्हें टोल प्लाजा पर ही रोक दिया गया। भारती उसी जगह हनुमान चालीसा का पाठ करने पर अड़े हैं जहां पिछले दिनों बवाल हुआ था। भारी संख्या में ग्रामीणों को अपने साथ लेकर तहसील की ओर बढ़ते स्वामी दिनेश आनंद भारती को पुलिस ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने। उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ टोल प्लाजा पर ही शुरू कर दिया।भगवानपुर के डाडा जलालपुर में ग्रामीणों की भारी भीड़ जुटी। पुलिस के समझाने पर स्वामी दिनेश आनंद भारती नहीं माने। वहा डाडा जलालपुर गांव से तीन-चार ट्रैक्टर ट्राॉलियों और बाइक सवार युवकों को लेकर पहुंचे। भगवानपुर टोल प्लाजा पर भारी भीड़ के साथ पहुंचे स्वामी दिनेश आनंद ने लोगों को संबोधित करते हुए आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। इसके बाद कांग्रेस विधायक ममता राकेश का पुतला फूंका।भगवानपुर तहसील पहुंचकर का पाठ करने का कार्यक्रम तय किया गया था, लेकिन भारी पुलिस फोर्स होने के चलते स्वामी टोल प्लाजा पर ही बैठ गए। यहीं पर उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कर दिया। इस दौरान मौके पर पहुंचे सीओ ने स्वामी दिनेश आनंद से बातचीत की और एक सप्ताह के भीतर आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। स्वामी दिनेश आनंद ने कहा कि अगर सात दिन के भीतर कड़ी कार्रवाई नहीं की गई तो बड़ा आंदोलन शुरू होगा।

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाInternational Police Expo: अत्याधुनिक हथियारों के साथ फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी की हुई प्रदर्शनी, चेहरे से ही हो जाएगी आरोपी की पहचान******Highlights दिल्ली के प्रगति मैदान में दो दिवसीय पुलिस एक्सपो का आयोजन हुआ। यह एक्सपो एशिया का सबसे बड़ा अंतराष्ट्रीय पुलिस एक्सपो है। यहां 350 से ज्यादा डिफेंस उपकरण बनाने वाली कंपनियां अपने अत्याधुनिक हथियारों और तकनीकों का प्रदर्शन कर रही है। इस अंतराष्ट्रीय एक्सपो में 3000 से ज्यादा पुलिस पर्सनल और डिफेंस पर्सनल शामिल हो रहे हैं।एक्सपो में फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी रही चर्चा का विषयएडवांस्ड फेस रिकॉग्निशन सिस्टम से देश भर में अपराधिक मामलों की हिस्ट्री रखने वाले अपराधियों की पहचान बहुत ही आसानी से कर लेगा। अगर सिस्टम में एक बार किसी का भी रिकॉर्ड दर्ज हो जाए तो केवल 40 प्रतिशत चेहरा दिखने पर भी ये रिकॉग्निशन सिस्टम उसकी पहचान कर लेगा। Amtron कंपनी का ये सिस्टम इसलिए भी चर्चा में है क्योंकि कोरोना काल के बाद से मास्क के जरिए भी अपराधी अपनी पहचान छुपाते आए है, ऐसे में अब अपराधियों को पकड़ना आसान हो जाएगा, अगर ये सिस्टम और इसका कैमरा कही भी लगे होंगे तो अपराधी को आसानी से पकड़ा जा सकेगा, ये अपराधी की पहचान किसी भी एंगल से कर सकता है, पहचान करने के बाद डाटा में उसका नाम, उसकी औसत उम्र के साथ दिखाएगा।कड़कड़ाती ठंडी में भी गर्मी का एहसास करवाएगी यह जैकेटसीमा पर जवानों को कड़कड़ाती ठंड से राहत देने के लिए बेहतर जैकेट भी इस बार प्रदर्शित किए गए है जो जवानों को –20 डिग्री और –50 डिग्री में भी गर्म महसूस कराएंगे, साथ ही एंटी ड्रोन सिस्टम भी एक्सपो में आकर्षण का केंद्र बना रहा जो दूसरे ड्रोन्स को कंट्रोल कर लैंड करवाएगा।एक्सपो में अत्याधुनिक हथियार मौजूदप्रगती मैदान में आयोजित हुए एक्सपो में यूके, यूएस, इजराइल, जर्मनी और फ्रांस जैसे कई देशों ने भाग लिया। इस प्रदर्शनी में इन देशों ने अपने-अपने अत्याधुनिक हथियार की प्रदर्शनी भी लगाई जिसमें स्नाइपर गन, 10 राउंड पिस्टल, बॉम्ब मोर्टार, ड्रोन और एंटी ड्रोन सिस्टम, नाइट विजन गन से लेकर एडवांस्ड बुलेट प्रूफ जैकेट तक सभी यहां प्रदर्शित किए गए।मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाडायबिटीज के मरीज यूं अपनी डाइट में शामिल करें सिंघाड़ा, कंट्रोल में रहेगा ब्लड शुगर लेवल******Highlightsएक ऐसी बीमारी है जिसका कोई स्थायी इलाज नहीं है। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें, तो खराब लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से डायबिटीज एक आम बीमारी बन गई है। अगर इसपर ध्यान न दिया जाए तो यह खतरनाक रूप ले सकती है। इसलिए अपने खानपान कीखास ध्यान रखें क्योंकि डायबिटीज को सिर्फ हेल्दी खाना और फिजिकल एक्टिविटी द्वारा ही कंट्रोल किया जा सकता है।मधुमेह के रोगियों को अपने खाने में ऐसी चीजों को शामिल करने की जरूरत होती है, जिनसे उनका शुगर लेवल कंट्रोल में रह सके। ऐसे में अगर आप भी डायबिटीज के मरीज हैं और ब्लड शुगर को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो दवाइयों के अलावा अपनी डाइट में सिंघाड़े को शामिल कर सकते हैं। इसके सेवन से आसानी से ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित किया जा सकता है।सिंघाड़ा खाने से नींद ना आने की समस्या दूर हो सकती है। अगर आप नियमित रूप से सिंघाड़े का सेवन करेंगे तो इससे आपको धीरे-धीरे नींद ना आने की समस्या में आराम मिलेगा।अगर आप एसिडिटी की समस्या से परेशान हैं तो सिंघाड़ा आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसका सेवन करने से पेट से संबंधित दिक्कतों के साथ-साथ भूख ना लगने की समस्या में भी आराम मिलेगा।अक्सर लोग कमजोरी की शिकायत करते हैं ऐसे में आप शरीर की कमजोरी दूर करने के लिए सिंघाड़े का सेवन कर सकते हैं। इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जो दांतों और हड्डियों के लिए लाभदायक माना जाता है।

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाTeesta Setalvad: कौन हैं तीस्ता सीतलवाड़, गुजरात दंगों से कनेक्शन और सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी... जानिए सबकुछ******Highlightsगुजरात एटीएस ने सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ को आज मुंबई में गिरफ्तार कर लिया। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच में तीस्ता के खिलाफ दर्ज एफआईआर के सिलसिले में ये एक्शन लिया। मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सीतलवाड़ को गुजरात पुलिस ने उनके सांताक्रूज स्थित आवास से हिरासत में लिया फिर बाद में गिरफ्तार कर लिया। तीस्ता सीतलवाड़ की गिरफ्तारी के बाद ये जनना भी जरूरी हो जाता है कि तीस्ता सीतलवाड़ कौन हैं और आखिर सुप्रीम कोर्ट ने ऐसा क्या कहा कि उनकी गिरफ्तारी हो गई?अहमदाबाद क्राइम द्वारा गिरफ्तार तीस्ता सीतलवाड़ एक पत्रकार और समाजिक कार्यकर्ता हैं। तीस्ता सिटिजन फॉर जस्टिस एंड पीस (CJP) नाम के एक NGO की सचिव हैं। यह संगठन 2002 में गुजरात में सांप्रदायिक दंगे के पीड़ितों के लिए न्याय लड़ने के लिए स्थापित किया गया था। 9 फरवरी को महाराष्ट्र के मुंबई में जन्मी तीस्ता की पढ़ाई मुंबई में ही हुई। उनके पिता अतुल सीतलवाड़ पेशे से वकील थे। तीस्ता के दादा एमसी सीतलवाड़ भारत के पहले अटॉर्नी जनरल रहे। सीतलवाड़ के पति आनंद भी पत्रकार रहे हैं।तीस्ता सीतलवाड़ को साल 2007 में तत्कालीन राष्ट्रपति अब्दुल कलाम ने महाराष्ट्र में सार्वजनिक मामलों में पद्मश्री से सम्मानित किया था। इससे पहले उन्हें साल 2002 में राजीव गांधी राष्ट्रीय सद्भावना पुरस्कार भी मिल चुका है। इसके अलावा उन्हें साल 2000 में प्रिंस कलॉस अवॉर्ड, 2003 में नूर्नबर्ग अतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार पुरस्कार भी मिल चुका है।तीस्ता सिटिजन फॉर जस्टिस एंड पीस (CJP) नाम के एक NGO की सचिव हैं। गुजरात दंगे को लेकर कोर्ट में डाली गई याचिका में CJP एक सह-याचिकाकर्ता है जो नरेंद्र मोदी और 62 अन्य सरकारी अधिकारियों के 2002 के गुजरात दंगों में उनकी सहभागिता के लिए आपराधिक मुकदमा की मांग कर चुकी है। वहीं भाजपा कहती है कि तीस्ता सीतलवाड़ का संगठन नरेंद्र मोदी को बदनाम करने के लिए कांग्रेस द्वारा स्थापित या संचालित किया जा रहा है।साल 2002 के गुजरात दंगों पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित एसआईटी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 55 राजनेताओं और अधिकारियों को मिली क्लीन चिट के खिलाफ जाकिया जाफरी ने याचिका दायर की थी। जकिया जाफरी के पति एहसान जाफरी की इन दंगों में मौत हुई थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जकिया की याचिका में मेरिट नहीं है। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि कानून का दुरपयोग करना ठीक नहीं।इतना ही नहीं इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी जांच की तारीफ की और तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि जितने लोग कानून का खिलवाड़ करते हैं उनके खिलाफ ऐक्शन लिया जाना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने तीस्ता सीतलवाड़ का नाम भी लिया और कहा कि सीतलवाड़ के खिलाफ और जांच की जरूरत है। कोर्ट ने यह भी कहा था कि मामले में को-पेटिशनर सीतलवाड़ ने जकिया जाफरी की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया। कोर्ट ने तीस्ता की भूमिका की जांच की बात कही थी।गुजरात के गोधरा स्टेशन पर 27 फरवरी 2002 को साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन के S-6 डिब्बे में आग लगा दी गई थी। आग की इस घटना में 59 लोग मारे गए थे। गौर करने वाली बात ये थी कि मारे गए सभी लग कारसेवक थे, जो अयोध्या से लौट रहे थे। बस फिर क्या था, गोधरा कांड के बाद पूरा गुजरात जल उठा। आकंड़ों के मुताबिक इन दंगों में 1,044 लोग मारे गए थे। उस वक्त नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। गोधरा कांड के अगले दिन, यानी 28 फरवरी को अहमदाबाद की गुलबर्ग हाउसिंग सोसायटी में बेकाबू भीड़ ने 69 लोगों की हत्या कर दी थी। मरने वालों में कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसान जाफरी भी थे, जो इसी सोसायटी में रहते थे। इन दंगों से राज्य में हालात इतने बिगड़ गए थे कि तीसरे दिन सेना उतारनी पड़ी थी।मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगाBank Holidays: मार्च में 13 दिन बंद रहेंगे बैंक, जरूरी कामकाज जल्दी पूरा कर लें****** मार्च का महीना शुरू होने वाला है। इसी बीच रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी की गई छुट्टियों की लिस्ट के अनुसार मार्च में कुल 13 दिन बैंक बंद रहेंगे। RBI के अनुसार, मार्च 2022 में त्योहारों और अन्य विशेष अवसरों के कारण अलग-अलग जोन में कुल सात दिन बैंक बंद रहेंगे। इसके अलावा रविवार और हर महीने की दीसरे तथा चौथे शनिवार को बैंक बंद ही रहते हैं।डिजिटल बैंकिंग के बढ़ने से काफी कुछ बदला है। हालांकि, अभी भी कुछ काम ऐसे हैं, जिनके लिए आपको बैंक जाना पड़ता है। जैसे- चेक क्लियरेंस या KYC के लिए आपको बैंक की ब्रांच में जाना ही पड़ता है। ऐसे में यह पता होना चाहिए कि बैंक कब खुला रहेगा और कब बंद रहेगा।मार्च में कुल 13 दिन बैंक बंद रहेंगे। ये छुट्टियां अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग दिन रहेंगी। हालांकि यहां यह ध्यान रहे कि देशभर के सभी बैंक अगले महीने में 13 दिन नहीं बंद रहेंगे क्योंकि केंद्रीय बैंक RBI द्वारा जो छुट्टियां तय की जाती हैं। उनमें से कुछ छुट्टियां क्षेत्रीय हैं। इसका मतलब हुआ कि कुछ दिन महज कुछ राज्यों में ही बैंक बंद रहेंगे लेकिन अन्य राज्यों में सभी बैकिंग कार्य आम दिनों की तरह ही होते रहेंगे।उत्तर प्रदेश की बात करें तो प्रदेश में मार्च महीने में 8 दिन बैंकों में अवकाश रहेगा। ऐसे में अगर आपको बैंक से जुड़ा कोई काम करना हो तो छुट्टियां जरूर चेक कर लीजिएगा। आइये आपको बताते हैं कि किस दिन कहां छुट्टी है।ये है बैंकों में छुट्टियों की तारीखें1 मार्च: महाशिवरात्रि- अगरतला, आइजोल, चेन्नई, गंगटोक, गुवाहाटी, इंफाल, कोलकाता, नई दिल्ली, पणजी, पटना और शिलांग को छोड़ अन्य स्थानों में बैंक बंद3 मार्च: लोसार- गंगटोक में बैंक बंद4 मार्च: चपचार कुट- आइजोल में बैंक बंद6 मार्च: रविवार (साप्ताहिक अवकाश)12 मार्च: शनिवार (महीने का दूसरा शनिवार)13 मार्च: रविवार (साप्ताहिक अवकाश)17 मार्च: होलिका दहन- देहरादून, कानपुर, लखनऊ और रांची में बैंक बंद18 मार्च: होली/धुलेटी/डोल जात्रा- बेंगलूरु, भुबनेश्वर, चेन्नई, इंफाल, कोच्चि, कोलकाता और तिरुवनंतपुरम को छोड़ अन्य स्थानों में बैंक बंद19 मार्च: होली/याओसांग का दूसरा दिन- भुबनेश्वर, इंफाल और पटना में बैंक बंद20 मार्च: रविवार (साप्ताहिक अवकाश)22 मार्च: बिहार दिवस- पटना में बैंक बंद26 मार्च: शनिवार (महीने का चौथा शनिवार)27 मार्च: रविवार (साप्ताहिक अवकाश)

मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगा2016-17 में भारत ने चाय उत्‍पादन में बनाया एक नया रिकॉर्ड, 125 करोड़ किलो हुआ प्रोडक्‍शन******देश में चाय उत्‍पादन का एक नया रिकॉर्ड बना है। वित्त वर्ष 2016-17 में कुल 125.05 करोड़ किलो चाय का उत्‍पादन हुआ है, जो देश के चाय उद्योग में अभी तक का सर्वाधिक स्‍तर है।उत्‍तर भारत में चाय का उत्‍पादन 3.43 प्रतिशत या 3.455 करोड़ किलोग्राम बढ़कर 104.31 करोड़ किलो रहा। उत्‍तर भारत में पश्चिम बंगाल में सबसे ज्‍यादा चाय का उत्‍पादन होता है। हालांकि, दक्षिण भारत में चाय का उत्‍पादन 7.66 प्रतिशत या 1.720 करोड़ किलो घटकर 20.738 करोड़ किलोग्राम रहा। दक्षिण भारत में सबसे ज्‍यादा चाय का उत्‍पादन तमिलनाडु में होता है। यहां चाय का उत्‍पादन पिछले साल की तुलना में 1.782 करोड़ किलोग्राम घटा है।पूरे भारत में छोटे उत्‍पादकों की हिस्‍सेदारी 2016-17 में 55.03 करोड़ किलोग्राम के साथ 44.01 प्रतिशत की रही। संगठित क्षेत्र या बड़े उत्‍पादकों ने 70.019 करोड़ किलोग्राम चाय का उत्‍पादन किया, जो कुल उत्‍पादन का 55.99 प्रतिशत है।मध्यप्रदेशमेंहलचलतेजBJPनेकहाअल्पमतमेंहैकमलनाथसरकारउसेजानाहीहोगावास्तु टिप्स: नमक मिलाकर पानी से भरे गिलास को इस दिशा में रखें, बनी रहेगी मां लक्ष्मी की कृपा******Highlightsजीवन की हर एक चीज वास्तु शास्त्र से प्रभावित होती है। घर के प्रवेश द्वार से लेकर किचन में रखा सामान तक वास्तु शास्त्र से प्रभावित होता है। यदि घर का निर्माण वास्तु शास्त्र के अनुसार किया जाए तो घर में बरतक बन रहती है।वास्तु शास्त्र में आज हम बात करेंगे घर में पैसों का प्रवाह सामान्य रूप से बनाये रखने के बारे में।कई बार होता है कि घर में पैसों की कमी बनी रहती है और कई बार एकदम से इतना पैसा आ जाता है कि उसका मैनेजमेंट ठीक से नहीं हो पाता।के अनुसार घर में पैसों का प्रवाह सामान्य रूप से बनाये रखने के लिये कांच का एक गिलास लेकर, उसमें पानी भरकर नमक मिलाएं और घर के नैऋत्य कोण, यानि दक्षिण-पश्चिम कोने में रख दें। इसके साथ उस गिलास के पीछे की तरफ एक लाल रंग का बल्ब लगा दें, ताकि जब भी बल्ब जले तो कांच के गिलास पर सीधे रोशनी पड़े और उसमें जब भी पानी सूख जाये तो गिलास को साफ करके उसमें दोबारा नमक मिला पानी भर दें। इससे पैसों का प्रवाह ठीक तरह से होता रहेगा।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 08:40
उद्धरण 1 इमारत
मासिक राशिफल, मई 2019: मेष से मीन तक, शनि, सू्र्य सहित कई ग्रह कर रहे है राशिपरिवर्तन, जानें अपनी राशि पर असर******कुंभ राशि वालों के लिये स्वास्थ्य के मामले में समय सामान्य रहने के आसार हैं। राशि स्वामी के लाभ स्थान में वक्री होने से आपको स्वास्थ्य का लाभ मिलने के आसार हैं। रोमांटिक लाइफ की बात करें तो समय अनुकूल नहीं है।अपने रिश्ते को लेकर असमंजस में रह सकते हैं। बेहतर रहेगा इस समय कोई निर्णय न लें। स्वयं को थोड़ा समय दें। क्योंकि कहते हैं समय के पास हर समाधान है। दांपत्य जीवन की बात करें तो अपनी क्रोध की प्रवृति पर थोड़ा नियंत्रण रखें इससे आपके रिश्ते में परेशानियां हो सकती हैं।हो सकता है आप अपने पार्टनर की भावनाओं को आहत कर दें। कहीं और का गुस्सा अपने परिजनों पर न निकालें। इससे आपकी सामाजिक प्रतिष्ठा को ठेस पंहुच सकती है।करियर के मामले में बिजनेस करने वाले जातकों को लाभ मिल सकता है। टारगेट पूरे हो सकते हैं। जो जातक नई शुरुआत करने के इच्छुक हैं कर सकते हैं। नौकरीशुदा जातकों के लिये समय अनुकूल नहीं है। ऑफिस पॉलिटिक्स से थोड़ा सचेत रहें। शिकार हो सकते हैं। काम का दबाव बढ़ सकता है।यदि प्रोमोशन का इंतजार कर रहे हैं तो आपको और इंतजार करना पड़ सकता है। फाइनेंस की बात करें तो लाभ स्थान में वक्र ग्रह होने से लाभ तो मिलेगा लेकिन उसकी गति थोड़ी धीमी रह सकती है। कुल मिलाकर आपके लिये यह माह अच्छा कहा जा सकता है।मीन राशि वालों के लिये स्वास्थ्य के मामले में समय अनुकूल रहने के आसार हैं। गरमी से अपने आपको बचाकर रखें सेहत सामान्य बनी रहेगी। रोमांटिक लाइफ में भी रिश्तों में प्रेम बने रहने के आसार हैं। यदि अपने प्यार का इजहार करना चाहते हैं तो समय अनुकूल है। विवाहित जातकों के लिये भी किसी तरह से चिंता करने की बात नहीं है आपके दांपत्य जीवन में भी मधुरता बनी रहेगी।करियर की बात करें तो व्यवसायी जातकों के लिये अच्छा समय कहा जा सकता है। जो जातक नौकरी छोड़ स्वयं का बिजनेस या कोई स्टार्ट अप शुरु करने की सोच रहे हैं उनके लिये भी समय अनुकूल है लेकिन जिस क्षेत्र में काम शुरु करना चाहते हैं उसकी रिसर्च अच्छे से कर लें।नौकरीशुदा जातकों को थोड़ा संभल कर रहने की आवश्यकता है। लंबे समय से परेशानी झेल रहे जातकों के लिये परिवर्तन का निर्णय लेने का समय है। बेरोजगार जातक अभी और परेशान रह सकते हैं। फाइनेंस के मामले में धन रुक-रुक कर आयेगा। खर्चों पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता रहेगी। अपने बजट में रहकर ही खर्च करें।
2022-10-01 08:15
उद्धरण 2 इमारत
नकदी, ATM प्रबंधन कंपनियों में जल्द 100 फीसदी FDI की अनुमति दे सकती है सरकार****** नकदी और ATM प्रबंधन कंपनियों को जल्द 100 फीसदीप्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) हासिल करने की अनुमति मिलेगी क्योंकि उन्होंने निजी सुरक्षा एजेंसियां नियमन कानून पीएसएआरए का अनुपालन करने की जरूरत नहीं होगी।इस बारे में गृह मंत्रालय द्वारा जल्द स्पष्टीकरण जारी किए जाने की संंभावना है। यह स्पष्टीकरण इसलिए जारी किया जा रहा है कि नकदी और एटीएम प्रबंधन कंपनियों में इस कानून के अनुपालन को लेकर असमंजस है। इसके तहत वे सिर्फ 49 फीसदी FDI ले सकती हैं।इस स्पष्टीकरण के बाद मुद्रा की वैधता की पहचान करने या छंटाई करने वाली तथा नोटों को गिनने वाली मशीन बनाने वाली कंपनियों को भी लाभ होगा। TVS इलेक्ट्रानिक्स और ITI जैसी कंपनियां इस तरह के कारोबार में हैं।देश में करीब दर्जन भर नकदी प्रबंधन कंपनियां मसलन राइटर सेफगार्ड, एसआईएस सिक्योरिटीज, सीएमएस, सिक्योर वैल्यू, लाजिकैश, सिक्योरिटियंस और साइंटिफिक सिक्योरिटी मैनेजमेंट सर्विसेज परिचालन कर रही हैं।प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) द्वारा पिछले महीने बुलाई गई बैठक में इस मुद्दे पर विचार विमर्श किया गया।एक अधिकारी ने कहा, उस बैठक में यह फैसला किया गया कि गृह मंत्रालय को इस बारे में स्पष्टीकरण जारी करने को कहा जाएगा कि इन कंपनियों को पीएसएआरए का अनुपालन करने की जरूरत नहीं होगी और वे 100 फीसदी FDIहासिल कर सकेंगी।विशेषज्ञोंका कहना है कि नकदी प्रबंधन करने वाली कंपनियां अब नीतिगत मोर्चे पर असमंजस में है। गृह मंत्रालय यदि ये कंपनियों निजी सिक्योरिटी गार्ड या बख्तरबंद गाड़ियां मुहैया कराती है तो उन्होंने 100 फीसदी एफडीआई की अनुमति नहीं दी जा सकती।
2022-10-01 07:56
उद्धरण 3 इमारत
Goa Vidhan Sabha Chunav 2022: गोवा में चुनाव की तारीखों का ऐलान, पढ़िए विधानसभा चुनाव का पूरा शेड्यूल******Highlightsभारत निर्वाचन आयोग ने की तारीखों का ऐलान कर दिया है। शनिवार दोपहर मुख्य चुनाव आयुक्त चुनाव ने तारीखों का कार्यक्रम जारी किया।चुनाव आयोग के मुताबिक, गोवा में 14 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होगी और 10 मार्च को नतीजे आएंगे। पिछली बार 2017 में गोवा में भी एक ही चरण में चुनाव हुए थे।एक ही चरण में चुनाव होगा।14 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होगा।10 मार्च को नतीजे आएंगे।बता दें कि गोवा में 40 विधानसभा सीटें हैं और 2 जिले हैं। यहां विधानसभा का कार्यकाल 15 मार्च को समाप्त हो रहा है। राज्य में पिछला विधानसभा चुनाव फरवरी 2017 में हुआ था। कांग्रेस 15 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी लेकिन वो सरकार नहीं बना सकी। बीजेपी ने 13 सीटें जीतीं और वो एमजीपी, जीएफपी और दो निर्दलीय विधायकों के सहारे सरकार बनाने में सफल रही। गोवा के मुख्यमंत्री के रूप में मनोहर पर्रिकर ने शपथ ली थी लेकिन 17 मार्च 2019 को मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद डॉ. प्रमोद सावंत को राज्य का मुख्यमंत्री बनाया गया।
वापसी